Read More

जीवन परिचय; सूर्य कवि पंडित लखमीचंद और उनका हरयाणवी कविता संग्रह

पंडित लख्मीचंद का जन्म गांव जांटी कलां (सोनीपत) के एक सामान्य किसान परिवार में हुआ था। परिवार का निर्वाह बड़ी कठिनाई से होता था इसलिए बालक लखमी को पाठशाला भेजने का प्रश्न ही नही उठता। लखमी को घर के पशु चराने का काम […]

Tagged , , , ,

जीवन परिचय; हरिचन्द और उनका हरयाणवी कविता संग्रह

  जिला जींद में सफीदों के पास हाट गांव निवासी हरिचंद का जन्म 16 अक्टूबर 1941 को हुआ। गांव से प्राथमिक शिक्षा प्राप्त की। राज मिस्त्री का काम करते थे और आरा मशीन चलाते थे। सन् 1980 से वामपंथी आंदोलन से जुड़े […]

Tagged , , , ,
Read More

जीवन परिचय; हरीकेश पटवारी और उनका हरयाणवी कविता संग्रह

  गांव धनौरी, जिला जींद के निवासी थे। रेडियो सिंगर। आजादी के बाद के हरियाणा के सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक परिवेश को बहुत विश्वसनीय ढंग से प्रस्तुत करती रचनाएं। रचनाओं में व्यक्त सच्चाई और सहज कला के कारण रागनियां लोकप्रिय हुईं। वैराग्य रत्नमाला, […]

Tagged , , , ,

जीवन परिचय; ज्ञानी राम शास्त्री और उनका हरयाणवी कविता संग्रह

    जींद जिले के गांव अलेवा में सन् 1923 में जन्म। भिवानी और अमृतसर से प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त की। ओरियंटल कॉलेज, लाहौर से शास्त्री की परीक्षा पास करके लायलपुर चले गए। 1946 में सांप्रदायिक दंगों के कारण गांव अलेवा में आ […]

Tagged , , , ,

जीवन परिचय; रणवीर सिंह दहिया और उनका हरयाणवी कविता संग्रह

  जिला रोहतक के गांव बरोणा में 11 मार्च 1950 को जन्म। 1971 में एम. बी.बी.एस तथा 1977 में एम.एस की। सामाजिक बदलाव के कार्यों में नेतृव्य। हरियाणवी में कहानी एवं उपन्यास लेखन। समसामयिक विषयों और जन-नायकों पर सैंकड़ो रागनियां व किस्सों […]

Tagged , , , ,

लो हरियाणवी सिखो। हरियाणवी के कुछ शब्द।

  लो हरियाणवी सिखो। हरियाणवी के कुछ शब्द। Single—-राण्डा Boy——-छोरा Desi boy—मोल्लड़ Girl——-छोरी Dirty girl-सुगली Child—-बाळक Young—-गाबरु/मलंग Rope—जेवङी Friend —-ढब्बी Girlfriend-ढब्बण Beautiful—सुथरी Women—बिरबान्नी Handsome–सुथरा Biceps—कब्जे Shoulders–खोवा Bone—हाड Enemy—बैरी Noise—खुड़का/रोळा Gussa —-छो Majak—-मखोल Bakwas–अळबाद Love—लाड Brother—बीर Sister—भाण/बेब्बे Back—पाछै Thread—ताग्गा Winter—जाड्डा Cold air—शीळी बाळ […]

Tagged , , , ,
Read More

दोस्तो हमने रक्षाबंधन तो मना लिया ! पर क्या ये जरूरी नहीं है कि जान लें कि रक्षा सूत्र का असल में क्या महत्व है!

रक्षा बंधन का त्यौहार आज के परिप्रेक्ष्य में   प्राचीन काल में रक्षा सूत्र का महत्व कुछ अलग प्रकार से था – रानी राजा को रक्षा सूत्र बांधती थी जब वह शत्रु से युद्ध के लिए जाता था! इस रक्षा सूत्र को […]

Tagged , , , ,
Read More

जीवन परिचय; बंसीलाल; हरियाणा के माने जाते हैं विकास पुरुष और लौह पुरुष

चौधरी बंसीलाल (जन्म- 26 अगस्त, 1927; मृत्यु- 28 मार्च, 2006) श्री बंसीलाल; हरियाणा के भिवानी जिले के गोलागढ़ गांव के जाट परिवार में जन्मे इस हरियाणा के कद्दावर नेता को आज भी लोग सम्म्मान के साथ याद करते हैं। बंसीलाल का जन्म हरियाणा के भिवानी ज़िले में एक तत्कालीन लोहारू रियासत में […]

Tagged , , , ,
Read More

जीवन परिचय; अनीता कुंडू; एक बार नहीं दो बार माउंट एवेरेस्ट चढ़ने वाली बनी पहली भारतीय महिला

हरियाणा पुलिस में कार्यरत अनिता कुंडु बनी चीन की ओर से माउंट एवरेस्ट चढ़ने वाली पहली भारतीय महिला   अनीता कुंडू चाइना व नेपाल दोनों रास्तों से माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने वाली पहली भारतीय महिला बन चुकी हैं। दुनिया की सबसे मुश्किल […]

Tagged , , , ,
Read More