जाट के खेत में टयूबवेल

  जाट ने खेत में टयूबवेल लगवाना था ! सोचा कि पंडित जी से पूछ लू कि पानी कहां होगा ! पंडित जी ने सारे खेत में घूम कर एक कोने में हाथ रख दिया और बोला कि यहां टयूबवेल लगा ले […]

Tagged , , , ,
Read More

हरियाणा की ताई!

  एक बार एक मुक़ददमे में ताई गवाह बणा दी गई। ताई जा कर खड़ी होई, दोनो वकील भी ताई के गाँव के ही थे। पहला वकील बोला, “ताई तू मन्ने जाने है?” ताई: हाँ भाई तू रामफूल का है ना, तेरा […]

Tagged , , , ,
Read More

हरियाणवी मुहावरे और हरयाणवी चुटकुले

  एक हरियाणवी छोरा अपनी गर्लफ्रेंड ने 5 स्टार होटल मे रोटी खवान लेग्या,,,,, छोरा वेटर ने बला के बोल्या : Sir, With due respect, I beg to say that I am ill so I can not come to school. Kindly grant […]

Tagged , , , ,
Read More

मस्त हरियाणा और हरियाणा आले

मास्टर- तेरा जनम कड़े होया था? बालक-जी कुरुक्षेत्र में।। मास्टर-इसकी Spelling बता। बालक(थोड़ी देर सोचे पाछे)- मास्टर जी ऊँ लिकड़गी मुँह में ते, Jind में होया था जी मैं तो।। शादी के बाद नई बहु से ——– सास–चल बेटी टाइम हो गया […]

Tagged , , , ,
Read More

जहाँ बान्दर का भी मोर बणां दें थाणे मैं कुछ दिन तो गुजारो हरियाणे मैं

    एक बै स्कूल में मास्टर जी नै एक छोरे तैं बूझा – “कपड़ा किसे कहते हैं|..???? ?” छोरा बोल्या- जी बेरा कोनी…!!! मास्टर गुस्से में हो-कै बोल्या – तेरी निक्कर किस चीज की बनी है ? छोरा बोल्या – जी, […]

Tagged , , , ,
Read More

हरियाणवीयों की एक कसूती आदत है:- । कोई सो रहा होता है तो , उसको जगाकर कहेंगे:- ” हैं र, सौवै था के !!!!

  एक बार हरियाणै का आदमी गंगा नाहण चला गया.. उसनै गंगा पै दो आदमी और मिलगे एक युपी का , एक बिहार का.. .. युपी आले नै गंगा मैं गोता (डूबकी) मारया और बाहर लयकड़ (निकल) कयं बोला- हरिओम..हरिओम.. बिहारी गोता […]

Tagged , , , ,
Read More

हरयाणवी मखोल और चुटकुले

  हम हरियाणा वाले 2 ही सिचवेशन में अपनी bike की स्पीड कम करते है या तो कोई सुथरी छोरी दिख जे या बाबू पीछे बेठया हो..!!!?? एकाधि छोरी तो सेल्फ़ी लेते टाइम मुह नै इतना पैना बना ले सै चाहे कच्छा […]

Tagged , , , ,
Read More

हरियाणा में मेट्रो

  मेट्रो हरियाणा में प्रवेश करने जा रही है तो फिर Anouncement भी हरियाणवी में होनी चाहिए। कैसी होगी Announcement: ?आगला टेसन बहादुरगढ़ “सै, किवाड ओले हाथ नै, खुल्लैंगे, गाड्डी में तै सुथरी ढाल उतरियो अर उतरती हाण एक-दुसरे कै ख्स्सन की […]

Tagged , , , ,
Read More

हरयाणवी बटेऊ, ससुराल के किस्से

सूअर अर लाठी बात इसी सै अक एक बै एक बटेऊ धौळी कमीज़-पैंट पहर कै सुसराड़ जावै था । राह में एक गळी मैं एक सूअर गार (कीचड़) मै लोट रहया था । जब वो बटेऊ उस धौरे कै लिकड़ा, तै उस […]

Tagged , , , ,
Read More

हरयाणवी चौपाल के किस्से कहानी

बारह आळी गाडी रमलू के पड़ौस में एक नई बहू आई थी । रमलू हुक्के की चिलम भरण का ओडा ले कै रोज उस घर में चला जाया करता । कुछ दिन पाच्छै बहू आपणै पीहर चली गई, रमलू नै इस बात […]

Tagged , , , ,
Read More